Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

RCOM के बुरे वक्त में काम आया JIO का भाईचारा नेटवर्क

Written by: Er.A.Allen : RCOM के बुरे वक्त में काम आया JIO का भाईचारा नेटवर्क,RCOM के मालिक श्री अनिल अंबानी को बचाने के लिए बड़े भाई और JIO के मालिक श्री मुकेश अंबानी और भाभी नीता अंबानी ही काम आये! ऐसे बुरे हालात में जब श्री अनिल अंबानी को जेल जाने के सिवा कोई रास्ता नहीं बचा था तो तो बड़े भाई मुकेश अंबानी को अपने छोटे भाई के लिए प्यार जागा और छोटे भाई यानी RCOM के मालिक श्री अनिल अंबानी को जेल जाने से बचा लिया!

ऐसे बुरे हालात में जब कोई साथ देता है तो उसके प्रति शुक्रिया अदा करना तो बनता ही है!ऐसे मुसीबत के वक़्त मदद करने के लिए श्री अनिल अंबानी ने अपने बड़े भाई और भाभी नीता अंबानी का शुक्रिया अदा किया है! श्री मुकेश अंबानी एक दयालु ब्यक्ति हैं और उन्हें यह कैसे मंजूर होता कि उनके रहते हुए उनका छोटा भाई जेल चला जाये !आगे उनके आपस में बिज़नेस का समीकरण किस तरह होगा यह बाद की बात है लेकिन अभी श्री अनिल अंबानी अपने बड़े भाई श्री मुकेश अंबानी के बहुत एहसानमंद हैं!

Mukesh Ambani help Younger Brother Anil Ambani
Mr.Mukesh Ambani and Mr.Anil Ambani together


श्री अनिल अंबानी को क्यों जाना पड़ता जेल

रिलायंस कम्यूनिकेशंस (RCOM) के ऊपर एरिक्सन का 550 करोड़ रुपये का क़र्ज़ था जिसका भुगतान करना था, रिलायंस कम्यूनिकेशंस (RCOM) को सुप्रीम कोर्ट के द्वारा तय की गई समय सीमा मंगलवार के भीतर यह भुगतान करना था.RCOM के पास भुगतान करने का कोई रास्ता नज़र नहीं आ रहा था जिसकी वजह से श्री अनिल अंबानी को कम से कम तीन महीने के लिए जेल की हवा खाना तय था,ऐसे बुरे हालात में RCOM और JIO का भाईचारा नेटवर्क ही काम आया!

दोनों भाई यानी श्री मुकेश अम्बानी और श्री अनिल अंबानी भारत के बहुत ही धनि ब्यक्ति हैं! पिछले फरवरी महीने इस मामले की मुकदमा के दौरान उच्चतम न्यायालय ने इसे जानबूझ कर भुगतान नहीं करने का मामला बताया था और अनिल अंबानी को अदालत की अवमानना का दोषी पाया था,ये बात साफ है की जब सुप्रीम कोर्ट दोषी क़रार देगा तो सजा भी सुनाएगा.

कोर्ट ने कंपनी को आदेश दिया कि वह या तो चार हफ्ते के भीतर एरिक्सन के बकाये का भुगतान करे या अंबानी तीन माह जेल का कारावास भुगतें.एक सूत्र ने बताया कि आरकॉम ने उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार एरिक्सन को 550 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने आरकॉम को भुगतान करने के लिए 19 मार्च तक का समय दिया था. अगर कंपनी ऐसा करने में विफल रहती है, तो अनिल अंबानी को तीन महीने की जेल हो सकती है. आरकॉम इससे पहले एरिक्सन को 118 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी थी.

अनिल अंबानी के ग्रुप की रिलायंस कैपिटल ने कर्ज को चुकाने के लिए रिलायंस निप्पन लाइफ एसेट मैनेजमेंट और रिलायंस जनरल इंश्योरेंस में हिस्सेदारी बेचने की फैसला किया है. कंपनी ने कहा, 'मुख्य कारोबार से इतर की कुछ संपत्तियों तथा रिलायंस निप्पन में 43 फीसदी और रिलायंस जनरल इंश्योरेंस में 49 फीसदी हिस्सेदारी बेचकर कुल कर्ज में 50-60 फीसदी की कमी की जाएगी.


अगर श्री अनिल अंबानी जेल जाते तो भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार होता कि भारत की नंबर एक रही टेलीकॉम कंपनी के मालिक जेल गए हों, और भारत के सबसे धनी व्यक्ति का भाई क़र्ज़ अदा नहीं करने के कारण जेल चला गया, बड़े भाई ने छोटे भाई की मदद कर के ये साबित कर दिया है की मानवता दौलत से ऊपर है,

हम आपको बता दें कि RCOM की संपत्ति बेचने के बाद भी क़र्ज़ अदा करना मुश्किल था,श्री अनिल अंबानी के सामने अन्धकार के सिवा कुछ भी नज़र नहीं आ रहा था,JIO के मालिक श्री मुकेश अंबानी के छोटे भाई श्री अनिल अंबानी को तीन महीने के लिए जेल जाना ही पड़ता लेकिन सही समय पर भाई की मदद कर के श्री मुकेश अंबानी ने भाईचारे की मिसाल कायम कर दी है,कारोबार के इतिहास में शायद ऐसा पहली बार हुआ है!

दोनों भाई का प्यार और एक दूसरे के साथ खड़े होने की मानवता को देख धीरू भाई अंबानी के आत्मा को शांति मिलेगी,हम आशा करते है की आगे भी दोनों भाई एक दूसरे के काम आते रहेंगे और भारत देश को आगे ले जायेंगे!

Post a Comment

1 Comments

  1. Usually, I never comment on blogs but your article is so convincing that I never stop myself to say something about it. You’re doing a great job Man, Keep it up. 👍 💯 % surely I will share your post on YouTube, & Social media with my friends and family…
    We and our family wishes your bright features and thanks ...

    ReplyDelete